1arrest_364

The miscreants looted gold jewelery worth 2.5 crores from the businessman's employee

कारोबारी के कर्मचारी से बदमाशों ने लूटे ढाई करोड़ के सोने के आभूषण

नई दिल्ली, 18 मई (हि.स.)। नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंचे एक आभूषण कारोबारी के कर्मचारी से बदमाशों ने करीब ढाई करोड़ का सोना लूट लिया। घटना के वक्त पीड़ित कर्मचारी कानपुर से वापस दिल्ली आया था।

कर्मचारी सोना की सप्लाई करने कानपुर गया था। नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर ट्रेन से उतरने के बाद वह बाहर निकल रहा था। इसी दौरान एक बदमाश उसका बैग झपटकर भागने लगा। पीड़ित के शोर मचाने पर लोगों ने बदमाश को दबोच लिया लेकिन बदमाश बैग को अपने एक साथी के हवाले कर दिया जो बैग लेकर फरार हो गया। गिरफ्त में आए बदमाश से पूछताछ कर पुलिस फरार बदमाशों की पहचान करने में जुटी है, लेकिन फरार बदमाशों के बारे में पुलिस को अभी कोई सुराग हाथ नहीं लगा है।

रेलवे का काम देख रहे मेट्रो डीसीपी जितेंद्र मणि के अनुसार, आकाश गोयल सपरिवार फरीदाबाद के विजेता सोसाइटी में रहता है। उसका कूंचा महाजनी, चांदनी चौक में सोने-चांदी का कारोबार है। पुलिस को दी शिकायत में कारोबारी ने बताया कि 12 मई को उसने अपने कर्मचारी सुशील दुबे को 42 सौ ग्राम सोना देकर कानपुर भेजा था। कानपुर में सोना की सप्लाई नहीं होने पर उसका कर्मचारी 14 मई की दोपहर पौने एक बजे नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंचा। काफी देर होने पर जब वह नहीं आया तो आकाश ने सुशील को फोन लगाया। सुशील ने बताया कि स्टेशन पर अजमेरी गेट की तरफ से निकलने के दौरान एक बदमाश उसका बैग झपटकर भाग गया।

इस सूचना पर आकाश तुरंत नई दिल्ली रेलवे स्टेशन थाने पहुंचा। जहां सुशील ने उसे बताया कि वह स्टेशन से बाहर निकल रहा था, तभी एक बदमाश उसके हाथ से बैग झपटकर भागने लगा। शोर मचाते हुए वह बदमाश के पीछे भागा। भागते बदमाश को देखकर लोगों ने उसे बैग समेत दबोच लिया। लेकिन जब तक लोग कुछ समझ पाते बदमाश अपने एक साथी को बैग दे दिया। उसका साथी बैग लेकर वहां से फरार हो गया। लोगों ने पकड़े गए बदमाश को पुलिस के हवाले कर दिया।

पकड़े गए बदमाश की पहचान गांव इंद्री, मेवात हरियाणा निवासी भूपेंद्र उर्फ सोनी पंवार के रूप में हुई है। कारोबारी ने बताया कि जिस बैग को बदमाश लेकर भागे हैं, उसमें करीब दो करोड़ से ज्यादा का सोना था।

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि शुरुआती जांच में पता चला है कि वारदात को तीन बदमाशों ने अंजाम दिया है। पुलिस घटनास्थल के आसपास के सीसीटीवी फुटेज को कब्जे में कर लिया है। फुटेज के जरिए बदमाशों की पहचान कर ली गई है। बदमाशों को पकड़ने के लिए पुलिस की चार टीमें गठित की हैं, जो बदमाशों के संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है।


Comment As:

Comment (0)