Today's Top News

img
लखनऊ, 24 नवम्बर (हि.स.)। प्रदेश में पिछले चौबीस घंटे में 2,274 नए मामले सामने आए हैं। इसी दौरान 2,032 मरीज इलाज के बाद स्वस्थ हुए हैं। प्रदेश में कोविड-19 रिकवरी दर 94.06 प्रतिशत है। कल एक दिन में कुल 1,60 लाख सैम्पल की हुई जांच अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने मंगलवार को बताया कि वर्तमान में 23,928 कोरोना के सक्रिय मामले हैं। कल एक दिन में कुल 1,60,232 सैम्पल की जांच की गयी। कल विभिन्न प्रयोगशालाओं को 65,385 सैम्पल आरटीपीसीआर टेस्ट के लिए भेजे गए। राज्य में अब तक कुल 1,82,92,171 सैम्पल की जांच की गयी है। अब तक कुल 4.99 लाख मरीज हुए स्वस्थ उन्होंने बताया कि कुल 4,99,507 कोविड-19 से ठीक होकर पूर्ण उपचारित हो चुके हैं। मार्च में संक्रमण की शुरुआत से लेकर अब तक 7,615 लोगों की मौत हुई है।वर्तमान में होम आइसोलेशन में 10,971 लोग हैं। वहीं निजी चिकित्सालयों में 2,327 लोग इलाज करा रहे हैं। इसके अतिरिक्त बाकी मरीज एल-1, एल-2 तथा एल-3 के सरकारी अस्पतालों में भर्ती हैं। 2.92 करोड़ की 14.33 आबादी का हुआ सर्वेक्षण अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 1,62,595 क्षेत्रों में 4,63,427 टीम दिवस के माध्यम से 2,92,91,538 घरों के 14,33,18,033 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है। इस महीने 1.6 फीसदी चल रही पॉजिटिविटी दर अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि प्रदेश में मार्च में संक्रमण का पहला मामला सामने आने के बाद पॉजिटिविटी दर पर नजर डालें तो तब यह 3.3 प्रतिशत थी। इसके बाद जून में 4.0 प्रतिशत, जुलाई में 4.2 प्रतिशत, अगस्त में 4.6 प्रतिशत और सितम्बर में 4.0 प्रतिशत थी। इसके बाद इसमें गिरावट दर्ज की गई और अक्टूबर में 1.9 प्रतिशत रही। इस महीने 23 नवम्बर तक यह 1.6 फीसदी चल रही है। वहीं अगर सम्पूर्ण पॉजिटिविटी की बात करें तो यह 3.2 प्रतिशत है। सरकारी अस्पतालों में रविवार को 5,874 बच्चों ने लिया जन्म उन्होंने बताया कि राज्य में कोविड के साथ नॉन कोविड केयर पर भी पूरा ध्यान दिया जा रहा है। सरकारी अस्पतालों में प्रसव कराए जा रहे हैं। 22 नवम्बर को प्रदेश के सरकारी अस्पतालों में कुल 5,874 बच्चों ने जन्म लिया। इनमें 5,693 नार्मल और 181 सिजेरियन डिलीवरी हुई। प्रदेश में ई-संजीवनी के माध्यम से 24 घंटे में 552 लोगों ने चिकित्सीय परामर्श लिया है। अब तक कुल 2,22,051 लोग चिकित्सीय परामर्श ले चुके है। उत्तर प्रदेश में संक्रमण अभी भी नियंत्रित अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने कहा कि प्रधानमंत्री ने कोरोना संक्रमण बढ़ने वाले आठ राज्यों की आज समीक्षा की। सौभाग्यवश इनमें उत्तर प्रदेश नहीं था और यह प्रदेश की जनता के सहयोग के कारण संभव हो सका है। लोगों ने जो सहयोग किया है, सावधानियां बरती हैं, प्रदेश में संक्रमण ना बढ़े, इस बात का ध्यान रखा है। इसी का परिणाम है कि उत्तर प्रदेश में संक्रमण अभी भी नियंत्रित है, जबकि दुनिया के कई देशों में बहुत तेजी से मामलों में उछाल आ रहा है और देश के भी कुछ प्रांतों में ऐसा देखने को मिला है। वैवाहिक समारोह और भीड़ से बुजुर्गों को रखें दूर, वीडियो कॉल से लें आशीर्वाद उन्होंने कहा कि अभी जो वैवाहिक समारोह का समय है, इनमें सभी लोग इस बात का ध्यान रखें कि बुजुर्गों को लेकर मत जाएं। उन्हें भीड़ भाड़ से दूर रखें। बुजुर्गों से अगर आशीर्वाद लेना है, तो तकनीक का इस्तेमाल करते हुए वीडियो कॉल के जरिए ले सकते हैं। बुजुर्ग स्वयं भी बेहद आवश्यक होने पर ही घर से निकलें। ई संजीवनी एप का इस्तेमाल करते हुए घर बैठे चिकित्सकों की सलाह ली जा सकती है। बहुत आवश्यक होने पर ही उन्हें अस्पताल लेकर जाएं। उन्होंने कहा कि इस समय हम जितना सावधान और सतर्क रहेंगे, संक्रमण को प्रदेश में उतना ही नियंत्रित कर सकेंगे और कोरोना की जो दूसरी लहर की आशंका है उसे रोक सकेंगे
Adv

You Might Also Like