ADV2
adv Ftr

गुमनामी बाबा बनकर जीवन बिताने वाले नेताजी पर बनेगी फिल्म

 

कोलकाता, 20 अगस्त (हि.स.)। फिल्म निर्माता श्रीजीत मुखर्जी नेताजी के गुमनामी पर फिल्म बनाएंगे। आजादी के बाद लंबे समय तक उत्तर प्रदेश में गुमनामी बाबा के रूप में मशहूर एक रहस्यमई व्यक्ति पर उनकी फिल्म केंद्रित होगी। दावा किया जाता रहा है कि 1945 में कथित विमान दुर्घटना से बचने के बाद नेताजी सुभाष चंद्र बोस भेष बदलकर उत्तर प्रदेश में रह रहे थे। लोगों उन्हें गुमनामी बाबा के नाम से जानते हैं। 
नेताजी सुभाष चंद्र बोस पर रिसर्च करने वालों ने 2016 में एक विश्लेषण प्रकाशित किया था जिसमें दावा किया था कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस उत्तर प्रदेश में गुमनामी बाबा के रूप में 1970 तक रह रहे थे। इसके साक्ष्य के रूप में विश्लेषकों ने गुमनामी बाबा के चश्मे और चेहरे की बनावट का विश्लेषण प्रस्तुत किया था जो हूबहू नेताजी सुभाष चंद्र बोस से मिलता जुलता है। इसके अलावा गुमनामी बाबा के नाम से मशहूर उक्त रहस्यमई शख्स आसपास के लोगों के लिए हमेशा ही रहस्यमई बना रहा है। 
नेताजी सुभाष चंद्र बोस के प्रशंसकों का मानना है कि वही नेताजी थे। श्रीजीत मुखर्जी ने इस बारे में कहा कि जब से उन्होंने गुमनामी बाबा के बारे में पढ़ा है, उन पर फिल्म बनाने के बारे में सोच रहे हैं। उन्होंने इससे संबंधित होमवर्क पूरा करने का काम शुरू कर दिया है। प्रसेनजीत चटर्जी को वह गुमनामी बाबा के रोल में लेंगे। उन्होंने बताया है कि 1970 के दौर में उत्तर प्रदेश में रहने वाले गुमनामी बाबा ही नेताजी सुभाष चंद्र बोस थे और उनके बारे में कहानी सामने आने के बाद लोग काफी दिलचस्पी लेकर उस बारे में जानने की कोशिश कर रहे हैं। 
उन्हें उम्मीद है कि फिल्म के प्रति दर्शकों का झुकाव काफी अधिक रहेगा। इस बारे में श्रीकांत मोहता की ओर से बताया गया है उनकी फिल्म इंडस्ट्री के बैनर तले यह फिल्म बनेगी। उन्हें भी उम्मीद है कि 2019 में फिल्म रिलीज होने के बाद लोगों का अच्छा रिस्पॉन्स मिलेगा‌। 

Todays Headlines