Adv
adv Ftr

आरुषि-हेमराज मर्डर केस की सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट

 

इलाहाबाद हाईकोर्ट से राजेश और नूपुर तलवार को बरी किए जाने के फैसले के खिलाफ सीबीआई ने दायर की है याचिका

नई दिल्ली, 10 अगस्त (हि.स.)। सुप्रीम कोर्ट नोएडा के आरुषि-हेमराज मर्डर मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट से डॉक्टर दंपति राजेश तलवार और नूपुर तलवार को बरी किए जाने के फैसले के खिलाफ सीबीआई द्वारा दायर याचिका पर सुनवाई करने के लिए सहमत हो गया है। आपको बता दें कि हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ हेमराज की पत्नी खुमकला बंजाड़े ने भी सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है जिस पर सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई, तलवार दंपति और यूपी सरकार को नोटिस जारी किया था। 

खुमकला ने इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले को गलत बताते हुए मामले की नये सिरे से जांच की मांग की है। याचिका में कहा गया है कि हेमराज का शव नोएडा में डॉक्टर तलवार के घर के छत पर मिला था। इसके साथ ही घटनास्थल से खून और संघर्ष के निशान मिले थे। इसलिए पुलिस का ये काम है कि वो आरोपी का पता लगाए।

आरुषि-हेमराज के मर्डर के मामले में राजेश और नूपुर तलवार मुख्य संदिग्ध हैं। 2013 में सीबीआई कोर्ट ने दोनों को हत्या का दोषी पाया था और दोनों को उम्र कैद की सजा सुनाई थी। दोनों ने इस फैसले को इलाहाबाद हाईकोर्ट में चुनौती दी जिसने दोनों को साक्ष्यों के अभाव में बरी कर दिया था। हाईकोर्ट के इसी फैसले के खिलाफ हेमराज की पत्नी और अब सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है।

Todays Headlines