ADV2
adv Ftr

दुष्कर्म के आरोपित आशु महाराज को पुलिस ने किया गिरफ्तार, क्राइम ब्रांच ने की घंटों पूछताछ

 

नई दिल्ली, 14 सितम्बर (हि.स.)। मां-बेटी से दुष्कर्म करने के आरोपित बाबा आशु गुरुजी को दिल्ली पुलिस ने आखिकार गुरुवार को गाजियाबाद से गिरफ्तार किया। बाबा को शाहदरा जिले की पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर गाजियाबाद के एक अपार्टमेंट से दबोचा और उसे लेकर दिल्ली आई। इसके बाद आरोपित बाबा को क्राइम ब्रांच के सुपुर्द कर दिया गया।
क्राइम ब्रांच की टीम बाबा से देर रात तक पूछताछ करती रही। क्राइम ब्रांच के एडिशनल सीपी राजीव रंजन ने कहा कि आशु महराज को गिरफ्तार करके पूछताछ किया गया। क्राइम ब्रांच ने करीब छह घंटे तक पूछताछ किया। उन्होंने कहा कि जांच पूरी होने के बाद इसका ब्यौरा उपलब्ध कराया जाएगा।
पुलिस मामला दर्ज करने के बाद से ही आरोपित बाबा की सरगर्मी से तलाश कर रही थी। बाबा आशु भाई गुरुजी उर्फ आसिफ खान के खिलाफ गाजियाबाद की एक महिला ने हौजखास थाने में यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज कराया था।

क्या लगाया था आरोप
महिला ने आरोप लगाया था कि बाबा ने दिल्ली के अपने आश्रम में उसके साथ कई सालों तक दुष्कर्म किया। महिला के मुताबिक बाबा के अलावा उनके बेटे और दोस्त ने भी उनके साथ यौन शोषण किया। इतना ही नहीं आरोपितों ने महिला की बेटी को भी नहीं बख्शा। विरोध करने पर इन्होंने दोनों को जान से मारने की धमकी देते और उनके साथ दुष्कर्म करते रहे।

छापेमारी में पता चला असली नाम
मामला दर्ज होने के बाद क्राइम ब्रांच द्वारा बाबा के आश्रम पर छापेमारी करने के दौरान यह पता चला कि ज्योतिषाचार्य का चोला ओढ़ने वाले इस बाबा का असली नाम है आसिफ खान। दरअसल आश्रम से बरामद निर्वाचन आयोग की वोटर लिस्ट में आशु भाई गुरुजी की फोटो के सामने उसका नाम आसिफ खान लिखा हुआ है।
इसके अलावा उसके बेटे की फोटो के सामने भी उसका नाम समर खान लिखा हुआ है। चूंकि दोनों ही वोटर लिस्ट में एक ही पते पर रहने वाले आसिफ खान और बेटे समर खान की तस्वीर लगी है। इस आधार पर ही यह माना जा रहा है कि बाबा का असली नाम आसिफ खान है।

कैसे महिला को लिया झांसे में
पुलिस में दर्ज कराई गई शिकायत के मुताबिक महिला की बेटी को पैरों में दर्द होता था, उसे ठीक करने के लिए वह बाबा आशु गुरुजी के पास गई तो मासूम बच्ची को ठीक करने के लिए उसे नग्न कर बाबा उसकी मालिश करने लगा। कुछ दिनों के बाद बाबा ने पीड़िता की बच्ची को एक दम ठीक करने का झांसा देकर उसे अपने रोहिणी के आश्रम में ले गया, जहां उसने उसके साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद से ही महिला के शोषण का सिलसिला चालू हो गया।

रोहिणी इलाके से शुरू किया धंधा
बाबा के बारे में चल रही जांच में यह बात सामने आ रही है कि शुरुआती दिनों में तो उसने छोटे-मोटे स्तर पर तंत्र-मंत्र व जादू-टोना का काम पदम नगर से चालू किया लेकिन यहां व अपना भविष्य ठीक से नहीं संवार पाया। इसके बाद उसने पदम नगर से निकलकर रोहिणी इलाके में अपना धंधा फिर से शुरू किया।

करोड़ों की संपत्ति का मालिक है आशु भाई
अब आलम ये है कि आशु भाई की दिल्ली के कई इलाकों में करोड़ों की प्रापर्टी है, जिसमें प्रीतमपुरा के तरुण एंक्लेव में मकान, रोहिणी सेकटर-7 में आश्रम और साउथ दिल्ली के हौज़खास जैसे पॉश इलाके में ऑफिस है। बाबा आयुर्वेदिक दवाएं भी खुद बनाता था।
आशु भाई ने भी की दूसरे बाबाओं जैसी गलती
आशु गुरुजी उर्फ आसिफ खान ने वही गलती कर दी जो उनसे पहले आसाराम बापू, गुरमीत राम रहीम, वीरेंद्र दीक्षित जैसे और दूसरे बाबाओं ने की। यानी महिला भक्तों की अस्मत से खिलवाड़ करना। बस इसी गलती के कारण वह फंस गए।

महिला ने दर्ज कराई रिपोर्ट
गाजियाबाद की रहने वाली पीड़ित महिला ने आठ सितम्बर को हौज खास थाने में इस संबंध में शिकायत दी थी। महिला की शिकायत के आधार पर पुलिस ने दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर आशु गुरुजी की तलाश में उनके तमाम संभावित ठिकानों पर दबिश डाल रही थी।

Todays Headlines