ADV2
adv Ftr

अमेरिकी शेयर बाजार में गिरावट का असर एशिया पर, कई देशों के सेंसेक्स गिरे

 

टोक्यो/नई दिल्ली, 11 अक्टूबर (हि.स.)। अमेरिकी शेयर बाजार में बुधवार को औंधे मुंह लुढ़क गया जिसका असर भारत समेत प्रमुख एशियाई बाजारों पर भी पड़ा है। भारतीय शेयर बाजार गुरुवार सुबह लगभग 1000 अंकों की भारी गिरावट के साथ शुरुआत की। इसी तरह की गिरावट के साथ हांगकांग, सिंगापुर, जापान और दक्षिण कोरिया के भी शेयर बाजार भी खुले। 

विदित हो कि बुधवार को रुपये को संभालने की कवायद के बीच भारतीय शेयर बाजार मजबूती के साथ कारोबार किया था। सेंसेक्स 460 अंक और निफ्टी 160 अंकों की तेजी के साथ बंद हुआ था। बावजूद इसके गुरुवार को भारत के शेयर बाजार गिरावट के साथ खुले।

जापान के शेयर बाजार का प्रमुख सेंस्टिव इंडेक्स निक्केई 818 अंकों की बड़ी गिरावट के साथ खुला। निक्केई लगभग 3.6 फीसदी गिरावट के साथ 22,689 के स्तर पर कारोबार करता देखा गया। हांगकांग शेयर बाजार का प्रमुख इंडेक्स हैंग सेंग भी सुबह 838 अंक यानी 3.3 फीसदी की कमजोरी के साथ 25,355 के स्तर पर खुला। इसी तरह सिंगापुर निफ्टी (एसजीएक्स निफ्टी) भी लगभग 300 अंकों की गिरावट के साथ यानी 2.86 फीसदी की गिरावट के साथ 10,188 के स्तर पर कारोबार करता देखा गया।

अमेरिकी दबाव में एशिया का प्रमुख कोरियाई बाजार के इंडेक्स कोस्पी में भी जोरदार गिरावट के साथ कारोबार की शुरुआत हुई। लगभग 3.8 फीसदी की गिरावट के साथ इस प्रमुख ग्लोबल इंडेक्स पर 81 अंक की कमजोरी के साथ कारोबार होता देखा गया। वहीं अमेरिकी गिरावट से ताइवान का इंडेक्स भी 6.61 फीसदी की जोरदार गिरावट के साथ लगभग 650 अंक लुढ़का।

उल्लेखनीय है कि एशियाई शेयर बाजार में आए इस भूचाल के लिए बुधवार को अमेरिकी शेयर बाजार डाओ जोंस में दर्ज हुई 832 अंकों यानी 3.15 फीसदी की गिरावट को जिम्मेदार बताया जा रहा है। डाओ जोंस 5,599 के स्तर पर बंद हुआ, वहीं अन्य प्रमुख इंडेक्स नैस्डैक भी 315 अंकों यानी 4.1 फीसदी की भारी गिरावट के साथ 7,422 के स्तर पर बंद हुआ था।

Todays Headlines