Today's Top News

img

-कहा, "मैं इस टीम को आदर्श मानती हूं, जय श्रीराम के नारे पर जताई आपत्ति


कोलकाता, 24 जनवरी (हि.स.)। पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले बांग्ला फिल्मों की मशहूर अभिनेत्री कौशानी मुखर्जी तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गईं। पार्टी का दामन थामते ही जय श्रीराम के नारे को लेकर उन्होंने आपत्ति जताई और भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधा है। उनके साथ कलाकारों के संगठन इम्पा की सेक्रेटरी पिया सेनगुप्ता ने भी तृणमूल कांग्रेस की सदस्यता ली है। राज्य के मंत्री ब्रात्य बसु और तृणमूल कांग्रेस प्रवक्ता कुणाल घोष की मौजूदगी में रविवार को टॉलीवुड के दो जाने-माने चेहरों ने तृणमूल कांग्रेस का झंडा थामा। इस अवसर पर बांग्ला फिल्म की हस्तियों ने भाजपा पर जमकर निशाना साधा।


 तृणमूल में शामिल होने के बाद अभिनेत्री कौशानी ने कहा, "मैं इस टीम को आदर्श मानती हूं। कई और दीदी के सैनिक बन गए। मैंने कभी सीधी राजनीति में काम नहीं किया, लेकिन काम करना चाहते हैं। काश मैं योग्यता के साथ काम कर पाऊं। मेरे पास कहने के लिए कुछ भी नहीं है, लेकिन करना है।" दूसरी ओर, पिया सेनगुप्ता ने कहा, "आज मैं ममता बनर्जी के सैनिक और कार्यकर्ता के रूप में पार्टी में शामिल हुई हूं। मैंने ममता बनर्जी को बचपन से देखा है। मैंने देखा है कि ममता बनर्जी ने कैसे लोगों के लिए लड़ाई लड़ी हैं।" 

  

पूछा- नेताजी के साथ श्रीराम के क्या हैं संबंध

विक्टोरिया मेमोरियल में तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी के सामने 'जय श्रीराम' के नारे लगाने के मुद्दे पर ब्रात्य बसु ने कहा, "बंगाल के लोगों ने इतना बड़ा बर्बरतापूर्ण व्यवहार कैसे देखा? ऐसी घटना में किसी के स्वागत की उम्मीद नहीं की जा सकती। नेताजी के साथ श्रीराम का क्या संबंध है?" दूसरी ओर, कुणाल घोष ने सीधे प्रधानमंत्री पर निशाना साधा और कहा, "मोदीजी ने कुछ नहीं किया। मुख्यमंत्री का अपमान करने के बाद भी उन्होंने इस बारे में अपना मुंह नहीं खोला। पार्टी के किसी व्यक्ति ने राजनीतिक नारा दिया तो कोई आपत्ति नहीं थी, लेकिन आधिकारिक समारोह में क्या यह किया जा सकता है? इससे भाजपा ने साफ कर दिया कि पार्टी और शासन में कोई अंतर नहीं है।"

Adv

You Might Also Like