ADV2
adv Ftr

मजाकिया अंदाज में पायलट ने कराया कोलकाता से बेंगलुरु का हवाई सफर

 

कोलकाता, 12 जनवरी (हि. स.)। अक्सर जब आप फ्लाइट में सफर करते हैं तो एयरलाइन कंपनियों की ओर से आपकी यात्रा को सुखद बनाने का दावा किया जाता है लेकिन ऐसा शायद हो जिसकी वजह से वाकई में आपकी यात्रा सुखद हो सके। कोलकाता से बेंगलुरु जाने वाली स्पाइसजेट की एक फ्लाइट के पायलट ने इतना शानदार मजाकिया अंदाज में सफर पूरा कराया कि यात्री उनके साथ दोबारा उड़ान भरने की गुहार लगा रहे हैं। शनिवार को कई यूजर्स ने अपने अनुभव टि्वटर, फेसबुक और अन्य जगहों पर साझा किए हैं। हालांकि यह रोमांचक सफर गत आठ जनवरी का है लेकिन शनिवार को कई यूजर्स के ट्वीट के बाद इस बारे में कई अनुभव वायरल हो रहे हैं। 
दरअसल, मोहित राव नाम के एक यात्री ने इस यात्रा के बारे में सोशल साइट ट्विटर पर जिक्र किया है। उन्होंने लिखा है कि स्पाइसजेट की फ्लाइट संख्या एसजी-658 के जरिए मैं कोलकाता से बेंगलुरु जा रहा था। अमूमन दो घंटे का सफर काफी बोरिंग होता है लेकिन उस दिन पायलट ने हमें इतना शानदार तरीके से सफर पूरा कराया कि मैं दोबारा उस फ्लाइट में सफर करने के लिए तैयार हूं। साथ ही पायलट के मजाकिया अंदाज के लिए अतिरिक्त शुल्क भी भुगतान कर सकता हूं।
अपने अनुभव का जिक्र करते हुए उन्होंने आगे लिखा कि जैसे ही फ्लाइट में सारे यात्री सवार हुए एवं उड़ान भरने के लिए विमान तैयार हुआ। उसी समय पायलट ने अमूमन होने वाली घोषणाओं के सुर में ही एक ऐसी बात कही जो सभी यात्रियों का ध्यान आकर्षित करने के लिए काफी था। पायलट ने कहा कि हमारी कंपनी सही काम नहीं कर रही है लेकिन फिर भी इस विमान में सवार होने के लिए आप सभी का धन्यवाद।
पायलट के इतना कहते ही सारे यात्रियों के चेहरे चमकने लगे थे और मुस्कुराहट फैल गई थी। हालांकि बाकी क्रु मेंबर्स असहज नजर आ रहे थे। इसके बाद फ्लाइट उड़ान भरने की ओर आगे बढ़ चली और एक एयर होस्टेस ने हवाई सफर के तमाम नियमों को पढ़कर सुनाना शुरू किया। स्पाइसजेट में मैट्रिमोनी का एक विज्ञापन भी एयर होस्टेस ने पढ़ा। उस विज्ञापन के अंत में जब एयर होस्टेस ने कहा कि भारत मैट्रिमोनी पर खुशहाल शादी खोजें। उसके बाद पायलट ने फिर अपने रेडियो अनाउंसमेंट यंत्र का इस्तेमाल किया और मजाकिया अंदाज में कहा कि खुशहाल शादी एक मिथक है। इसके बाद सारे यात्री ठहाके लगाने लगे थे। पायलट की इन दो घोषणाओं के बाद रास्ते भर यात्री इस उम्मीद में थे कि पता नहीं अब क्या हास्यास्पद घोषणा पायलट करेंगे। देखते ही देखते फ्लाइट बेंगलुरु पहुंच गई थी। 
लैंडिंग करने में पांच मिनट का समय बाकी था। तब तक एक बार फिर पायलट की आवाज गूंजी। सारे लोग पहले से उत्साहित थे। पायलट ने कहा कि आप सब बेंगलुरु पहुंच गए हैं। अब आपके लिए यह अनिवार्य हो गया है कि हवाई जहाज से अपनी बांई और देखें, जहां अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का शानदार नजारा है। एयरलाइन कंपनी भविष्य में इस शानदार नजारे के लिए भी चार्ज वसूलने लगेगी। एक बार फिर यात्री हंसते-हंसते लोटपोट हो गए थे। 
मोहित राव नाम के व्यक्ति ने अनुभव को साझा करते हुए यह भी लिखा है कि मुझे नहीं पता कि उस पायलट की नौकरी अभी बची है या चली गई है लेकिन अगर उनकी नौकरी बची है तो मैं दोबारा उनके साथ उड़ान भरना चाहता हूं और उनके हास्य के लिए अलग से भुगतान भी कर सकता हूं।

Todays Headlines