Today's Top News

img
घटना की जांच के लिए 5 सदस्य समिति गठित दुर्ग / भिलाई नगर, 2 मार्च (हि. स.)। पुरैना स्थित एनएसपीसीएल पावर प्लांट में हादसे में युवा इंजीनियर के मौत के बाद जांच के लिए पांच सदस्य समिति का गठन मंगलवार को कर दिया गया है। इस समिति में एनटीपीसी के दिल्ली मुख्यालय से तीन सुरक्षा अधिकारी एनएसपीसीएल के दो सुरक्षा अधिकारी को शामिल किया गया है। फिलहाल युवा इंजीनियर के शव को शव गृह में रखवा दिया गया है। आंध्र प्रदेश से परिजनों के पहुंचने के पश्चात शव को उनके सुपुर्द किया जाएगा। प्राप्त जानकारी के अनुसार पुरैना स्थित एनएसपीसीएल प्लांट में युवा इंजीनियर गटला किशोर बाबू 29 वर्ष सोमवार को द्वितीय पाली में दोपहर 2 से 10 बजे तक की ड्यूटी पर था। इसी दौरान रात्रि करीब 8 बजे वह वाइब्रेशन मेजरमेंट के लिए एनएसपीसीएल पावर प्लांट 2 में गया हुआ था। लौटते समय 8:30 बजे के लगभग कूलिंग टावर के पास चैनल से गुजर रहा था । इसी दौरान एक स्लैब टूट कर गिर गया और युवा इंजीनियर असंतुलित होकर स्लैब के नीचे बने पानी की टंकी में जा गिरा । पानी टंकी के अंदर करीब 5 फीट से अधिक ऊंचाई तक पानी भरा हुआ था। पानी का बहाव भी तेज होने के कारण डूबने से युवा इंजीनियर की मौत हो गई। देर रात्रि टंकी से पूरा पानी खाली करने के बाद एनडीआरएफ की टीम के द्वारा शव को रात्रि 1:45 बजे बाहर निकाला गया । हादसे की सूचना पर भट्टी पुलिस के द्वारा मर्ग कायम कर विवेचना में लिया गया है। शव को शव गृह में सुरक्षित रखा दिया गया है। मृतक आंध्र प्रदेश का निवासी है। घटना की जानकारी मिलने के बाद परिजन भिलाई आ रहे हैं। परिजनों के पहुंचने के बाद युवा इंजीनियर का शव उनके सुपुर्द कर दिया जाएगा । इस पूरी घटना की जांच के लिए पांच सदस्य टीम का गठन कर दिया गया है। जिसमें एनटीपीसी के दिल्ली मुख्यालय से तीन एवं एनएसपीसीएल भिलाई प्लांट से दो अधिकारियों को रखा गया है। यह समिति शीघ्र ही जांच पूर्ण कर रिपोर्ट हायर अथॉरिटी को सौपेगी।
Adv

You Might Also Like