Today's Top News

img
फतेहाबाद, 13 जनवरी (हि.स.)। कृषि कानूनों के खिलाफ बुधवार को जिले के जाखल व भट्टूकलां में किसानों द्वारा ट्रेक्टर रैली निकाली गई। भट्टूकलां क्षेत्र से सैंकड़ों किसानों ने चन्द्रमोहन पोटलिया के नेतृत्व में ट्रेक्टर रैली निकाली। यह रैली भट््टूकलां से आरंभ होकर गांव ढिंगसरा, किरढान, सिरढान, शेखुपुर दड़ौली होते हुए अनेक गांवों में पहुंची। रैली शुरू करने से पहले किसान आंदोलन में शहीद हुए किसानों को श्रद्धांजलि दी गई। इस रैली में कामरेड विष्णुदत्त, भट्टू के सरपंच रोशन सांई, ढाबीकलां से अमित बैनीवाल, रामअवतार ढाबी, दादा सूरजमल ढाबी सहित सैंकड़ों किसान मौजूद रहे। कृषि कानून रद्द करने की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे किसानों ने गणतंत्र दिवस की परेड में शामिल होने का ऐलान किया है। किसानों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। बुधवार सुबह से पड़ रही घनी धुंध भी किसानों का जोश कम न कर सकी। सुबह 9 बजे ही किसान ट्रैक्टर लेकर जाखल गांव में पहुंचना शुरू हुए। कुछ ही समय बाद किसानों के ट्रैक्टरों की तादाद काफी बढ़ गई। ट्रैक्टरों की संख्या अधिक होने के कारण सड़क पर बड़ी बड़ी कतारें लग गई। इससे जाखल-भूना मुख्य मार्ग मार्ग पर जाम की स्थिति पैदा हो गई। इस दौरान किसान संघर्ष समिति यूनियन के उपप्रधान जग्गी महल ने बताया कि 26 जनवरी को जाखल ब्लाक से हजारों की संख्या में ट्रेक्टर दिल्ली कूच करेंगे और अपना विरोध जताएंगे। इस अवसर पर किसान संघर्ष समिति के प्रधान लाभ सिंह, उप प्रधान जग्गी महल तलवाड़ा, कैशियर नवजोत सिंह, मैम्बर सतनाम सिंह, बलकार सिंह, गुरदीप सिंह, गुरप्यार सिंह, जग्गी, रोमी, नाजर सिंह, हरमेल सिंह, जगमेल सिंह, प्यारा सिंह सहित अन्य भारी संख्या में मौजूद किसानों ने कहा कि जब तक बिल वापसी नहीं होगी तब तक किसान अपनी मांगों को लेकर ऐसे ही प्रदर्शन करते रहेंगे। आगमी 26 जनवरी को दिल्ली में भारी संख्या के साथ दाखिल होंगे और सरकार से अपनी बात मना कर ही पीछे हटेंगे।
Adv

You Might Also Like