Adv
adv Ftr

विदेशी संस्थागत निवेशकों ने 327 करोड़ की निकासी की

मुंबई। साल के आखिरी कारोबारी दिन सोमवार को शेयर बाजार के मेटल सूचकांक में सबसे ज्यादा बढ़त देखी गई, जबकि टेलिकॉम सूचकांक को सर्वाधिक घाटा सहना पड़ा। मेटल इंडेक्स में 1.43 प्रतिशत की तेजी रही, जबकि टेलिकॉम कंपनियों के शेयरों में 0.76 प्रतिशत की गिरावट रही थी। बीएसई में मार्केट कैपिटलाइजेशन में हालांकि 0.37 लाख करोड़ रुपए की बढ़त देखी गई। सोमवार को बाजार पूंजीकरण 144.48 लाख करोड़ रुपये रहा था, जबकि पिछले कारोबारी दिन शुक्रवार को 144.11 लाख करोड़ रुपये रहा था। इस दौरान विदेशी निवेशकों ने 326.87 करोड़ रुपए की निकासी करते हुए मुनाफा कमाया। घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 321.98 करोड़ रुपए का निवेश किया है।
सोमवार को करेंसी डेरिवेेटिव सेगमेंट में कुल 19,272.51 करोड़ रुपये का कारोबार हुआ था, जबकि बाजार के कैश सेगमेंट में कुल 1,827.72 करोड रुपये का टर्नओवर रहा। सोमवार के कारोबार के दौरान 2,966 कंपनियों के 11,07,889 सौदे के जरिए कुल 24.10 करोड़ शेयरों का कारोबार हुआ था। इस दौरान 1503 स्क्रिप्स में बढ़त रही, जबकि 1105 स्क्रिप्स में कमी आई और 185 स्क्रिप्स स्थिर रही। बी ग्रुप की 25 कंपनियों पर अपर सर्किट एवं 8 कंपनियों पर लोअर सर्किट लगी थी। बी ग्रुप की कुल 356 कंपनियों में से 178 कंपनियों पर अपर सर्किट एवं 178 कंपनियों पर लोअर सर्किट लगी थी। बाजार में सुस्ती के कारण मंगलवार को भी बाजार में कोई कारोबारी हलचल नहीं देखी गई। 
बीएसई में सोमवार को विदेशी संस्थागत निवेशकों ने सतर्क रुख अपनाते हुए 1,614.90 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे। हालांकि मुनाफा कमाने के लिए बाजार से निकासी पर जोर दिया औऱ 1,941.77 करोड़ रुपये के शेयर बेचा। घरेलू संस्थागत निवेशकों ने हालांकि निवेश पर जोर दिया। घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 2,300.55 करोड रुपये के शेयर खरीदे जबकि 1,978.57 करोड़ रुपये के शेयर बेचे हैं। 

Todays Headlines