Adv
adv Ftr

संस्थागत निवेशकों ने 716 करोड़ का शुद्ध निवेश किया

मुंबई। इस सप्ताह के कारोबार के दौरान संस्थागत निवेशकों ने पिछले कारोबारी सत्र की तुलना में ट्रेडिंग में रूची दिखाई, जिससे बुधवार को खरीददारी और बिकवाली में तेजी देखी गई। विदेशी संस्थागत निवेशकों के साथ ही घरेलू संस्थागत निवेशकों ने जमकर खरीददारी की। हालांकि इस दौरान मुनाफे पर भी दोनों निवेशकों की नजरें बनी रहीं और मुनाफा भी काटा। इस कारोबारी सप्ताह में पहली बार निवेश पर जोर दिया। विदेशी निवेशकों ने 276.14 करोड़ रुपये का निवेश किया, जबकि घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 439.67 करोड़ रुपये का निवेश किया है। संस्थागत निवेशकों ने शुद्ध रूप से 715.81 करोड़ रुपये का निवेश किया है।
बुधवार के कारोबार के दौरान एफएमसीजी सूचकांक की कंपनियों में खरीदारी में तेजी आने से कंपनियों के शेयरों में 1.11 फीसदी की सबसे अधिक की तेजी देखी गई। करेंसी डेरिवेटिव्स सेगमेंट में भी निवेशकों का रुझान पिछले दिनों की तुलना में अधिक दिखाई दिया और कारोबारी सत्र की समाप्ति तक 26,707.75 करोड़ रुपये का कारोबार हो चुका था। इसी तरह, बाजार के कैश सेगमेंट में भी कुल 2,832.95 करोड़ रुपये का टर्नओवर दर्ज किया गया। इस दौरान निवेशकों ने 2,938 कंपनियों के 12,31,402 सौदों में रूची दिखाई, जिसके जरिए कुल 18.43 करोड़ के शेयरों का कारोबार किया गया। इस दौरान 1108 स्क्रिप्स में बढ़त देखी गई, जबकि 1490 स्क्रिप्स में कमी आई है। हालांकि 149 स्क्रिप्स में कोई बदलाव नहीं हुआ। उनके भाव यथावत रहे हैं। 
बीएसई में विदेशी संस्थागत निवेशकों ने बुधवार के कारोबार में सबसे ज्यादा का कारोबार किया है। विदेशी संस्थागत निवेशकों ने 4,410.43 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे हैं, जबकि 4,134.29 करोड़ रुपये के शेयर बेचकर मुनाफा काटा। घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 3,658.89 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे हैं, जबकि 3,219.22 करोड़ रुपये के शेयर बेचे हैं। घरेलू संस्थागत निवेशकों ने लगातार तीसरे कारोबारी दिन निवेश पर जोर दिया है। हालांकि विदेशी संस्थागत निवेशकों ने बुधवार को मुनाफे पर कम ही ध्यान दिया। उन्होंने इस कारोबारी सप्ताह में पहली बार निवेश पर जोर दिया। विदेशी निवेशकों ने 276.14 करोड़ रुपये का निवेश किया, जबकि घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 439.67 करोड़ रुपये का निवेश किया है। संस्थागत निवेशकों के इस रुख से आखिरी घंटे में बाजार में तेज उछाल दर्ज हुई।
बाजार में आई तेजी के कारण मार्केट कैप में भी इजाफा हुआ। हालांकि बी ग्रुप की 16 कंपनियों पर अपर सर्किट औऱ 16 कंपनियों पर लोअर सर्किट लगी थी। ग्रुप की कुल 301 कंपनियों में से 137 कंपनियों पर अपर सर्किट तथा 164 कंपनियों पर लोअर सर्किट लगी थी। ग्रुप ए की कंपनियों में शामिल यूनाइटेड ब्रेवरीज ने 8236.00 करोड़ रुपये का टर्नओवर किया है, जबकि येस बैंक का टर्नओवर 1753.00 करोड़ रुपये रहा। हालांकि येस बैंक के शेयरों में 3 फीसदी से अधिक की गिरावट देखी गई थी। इसी तरह, साउथइंड बैंक ने भी 1717.00 करोड़ रुपये का टर्नओवर किया है। इंडसइंड बैंक ने 1128.00 करोड़ रुपये और गृह फाइनेंस ने 996.00 करोड़ रुपये का टर्नओवर पूरा किया। ग्रुप बी की कंपनियों में शामिल प्राज इंड ने 564.00 करोड़ रुपये का टर्नओवर किया है| बंधन बैंक ने 540.00 करोड़ रुपये, आईओएल केम ने 209.00 करोड़ रुपये, युनाइटेड स्पिरिट्स ने 166.00 करोड़ रुपये और गुडलक ने 150.00 करोड़ रुपये का टर्नओवर पूरा किया। 

Todays Headlines