Adv
adv Ftr

स्वामी विवेकानंद के शिकागो संभाषण को स्कूल के पाठ्यक्रम में शामिल करेगी सरकार

कोलकाता, 12 जनवरी (हि.स.)। स्वामी विवेकानंद के आदर्शों के प्रति नई पीढ़ी को रूबरू कराने के लिए पश्चिम बंगाल सरकार ने स्कूल पाठ्यक्रम में उनके संभाषण को शामिल करने का निर्णय लिया है। शनिवार को स्वामी जी की जयंती पर राज्य शिक्षा विभाग की ओर से इस बारे में बयान जारी कर जानकारी दी गई है। बताया गया है कि उनके संभाषणों को पाठ्यक्रम में शामिल करने के साथ-साथ राज्य शिक्षा विभाग ने छात्रों के बीच शिकागो में विश्व धर्म संसद में स्वामी विवेकानंद के संबोधन वाली पुस्तिकाओं को वितरित करने का निर्णय लिया है।
राज्य सरकार ने शिकागो में विश्व धर्म संसद में स्वामी विवेकानंद के संबोधन के 125 वर्ष पूरे होने के मौके पर बच्चों के चारित्रिक निर्माण के लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए न सिर्फ पुस्तिकाओं का वितरण करेगी बल्कि उसे समझाने के लिए शिक्षकों को भी प्रशिक्षित किया जाएगा। साथ ही अन्य समाज सुधारकों के जीवन, कार्यों और संदेशों से संबंधित विवरण भी पाठ्य पुस्तकों में शामिल किए जाएंगे। विशेषज्ञ समिति इस पर चर्चा करेगी और इस संबंध में निर्णय लेगी। समिति उन पुस्तकों को अंतिम रूप देगी जहां ऐसी सामग्री पेश की जाएगी। वे यह भी तय करेंगे कि किस कक्षा में इन पुस्तकों को लॉन्च किया जाएगा।
शिक्षा विभाग के एक अधिकारी ने कहा, 'समिति इस संबंध में सभी पहलुओं को अंतिम रूप देने के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के सामने रखेगी।'
उन्होंने कहा, 'पिछले चार दशकों में, जनता के बीच समाज सुधारकों के संदेशों को प्रसारित करने के लिए कोई कदम नहीं उठाया गया। अब, मुख्यमंत्री ने यह पहल की है।'

Todays Headlines