img

लखनऊ, 09 अगस्त (हि.स.)। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने 'अगस्त क्रांति दिवस' पर इसमें बलिदान देने वालों को यादन किया है। 

अखिलेश ने रविवार को ट्वीट किया कि आज 'अगस्त क्रांति दिवस' के अवसर हम अपने उन शहीदों को सच्चे मन से याद करें, जिन्होंने सिर्फ राजनीतिक ही नहीं वरन सामाजिक-आर्थिक आजादी के लिए भी बलिदान दिया। सपा अध्यक्ष ने कहा कि सरकार बताए कि गरीब, दलित-दमित, पिछड़ों, व्यथित नारी, किसान, मजदूर व बेरोजगार युवाओं के लिए इस आजादी का क्या अर्थ है।

भारत के स्वतंत्रता संग्राम में महात्मा गांधी ने देशव्यापी स्तर पर जनांदोलन 'अंग्रेजों भारत छोड़ो' नारे के साथ शुरू किया था। इसे अगस्त क्रांति के रूप में जाना जाता है। दरअसल द्वितीय विश्व युद्ध में समर्थन लेने के बावजूद जब अंग्रेज भारत को स्वतंत्र करने को तैयार नहीं हुए तो राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने भारत छोड़ो आंदोलन के रूप में आजादी की अंतिम जंग का ऐलान कर दिया, जिससे ब्रितानिया हुकूमत में दहशत फैल गई। 

9 अगस्त, 1942 को इस क्रांति का ऐलान किया गया जिसके कारण 9 अगस्त को अगस्त क्रांति दिवस के रूप में मनाया जाता है।

Adv

You Might Also Like