Today's Top News

img

पीएम मोदी द्वारा चक्रवात ‘अम्फान’ से हुई तबाही से निपटने के लिए एक हजार करोड़ रुपये देने की घोषणा के साथ ही प. बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने कुछ सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी द्वारा घोषित एक हजार करोड़ रुपये एडवांस है या पैकेज, ये नहीं बताया गया।  


सीएम ममता ने कहा- पीएम मोदी ने इमरजेंसी फंड से एक हजार करोड़ देने का एलान किया, लेकिन यह नहीं बताया कि यह एडवांस होगा या पैकेज। पीएम ने कहा कि इस पर बाद में विचार होगा, लेकिन यह एडवांस होना चाहिए। मैंने उनसे कहा कि आप जो भी हमें देंगे, वो आपका फैसला है, हम विस्तार से बता देंगे। 


हमें लोगों की मदद करनी है और राहत कार्य शुरू हो गया है। मैंने पीएम से कहा कि हमें फूड सब्सिडी, सामाजिक योजनाओं और केंद्रीय योजनाओं के लिए 53 हजार करोड़ रुपये चाहिए। मैंने कहा कि आप हमें पैसे देने की कोशिश कीजिए ताकि हम इस संकट में काम कर सकें। 


सीएम ने कहा कि चक्रवात ‘अम्फान’ के कारण पश्चिम बंगाल को एक लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का नुकसान हुआ है। संकट की इस घड़ी में हम सभी को साथ मिलकर काम करना चाहिए। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में चक्रवाती तूफान के बाद के हालात के बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को विस्तार से सूचित किया। 


इस सवाल पर कि क्या वह पीएम के दौरे से संतुष्ट हैं, ममता बनर्जी ने कहा- मुझे लगता है कि संकट की इस घड़ी में सभी को साथ मिलकर काम करना चाहिए। केंद्र सरकार कई मामलों में हमारी मदद कर सकती है। इस देश में राज्य सरकारों का भी अस्तित्व है। केंद्र का भी अस्तित्व है। चाहे राज्य सरकार हो या केंद्र सरकार, एक साथ मिलकर काम करें। 

 

यह आपदा किसी राष्ट्रीय आपदा से कहीं अधिक

पश्चिम बंगाल में चक्रवात प्रभावित इलाकों का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ हवाई दौरा करने से पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को कहा कि राज्य में आई यह आपदा किसी राष्ट्रीय आपदा से कहीं अधिक है। राज्य में चक्रवात की चपेट में आने से अभी तक 77 लोगों की जान जा चुकी है।


ममता बनर्जी ने कहा कि स्थिति के सामान्य होने में समय लगेगा क्योंकि चक्रवात ने बंगाल में करीब सात से आठ जिलों में तबाही मचाई है। नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई-अड्डे पर मोदी का स्वागत करने पहुंची ममता ने पत्रकारों से कहा कि यह किसी राष्ट्रीय आपदा से कहीं अधिक है। मैंने अपनी जिंदगी में ऐसी तबाही कभी नहीं देखी। 


उन्होंने कहा कि स्थिति सामान्य होने में समय लगेगा, यह एक भयावह आपदा है। हमारे सभी अधिकारी और मंत्री प्रयास कर रहे हैं। पुलिस भी लगातार काम कर रही है। हम लॉकडउन, कोविड-19 और अब आपदा तीन चुनौतियों का सामना कर रहे हैं। गांव पूरी तरह तबाह हो गए हैं। 


मुख्यमंत्री ने कहा कि हवाई दौरे के बाद वह प्रधानमंत्री के साथ एक बैठक भी करेंगी। उन्होंने यह भी कहा कि जिन इलाकों का दौरा किया जाएगा उसका मानचित्र तैयार किया गया है।

Adv

You Might Also Like