ADV2
adv Ftr

कर्मचारियों की हड़ताल से किसानों को हो रही परेशानी

 

जगदलपुर, 04 जुलाई (हि.स.)। लैम्पस कर्मचारियों द्वारा गत 02 जुलाई से अपने को नियमित कर शासकीय कर्मचारियों के समान दर्जा देने तथा सातवें वेतनमान को लागू करने की मांग लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल की जा रही है। इससे बस्तर में किसानों तथा ग्रामीणों की सहायता के लिये स्थापित लैम्पसों में कार्य ठप हो गया है। जानकारी के अनुसार जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के तहत आने वाली 178 समितियों ने कार्य बंद होने से किसानों को खाद, बीज सहित ऋण प्रकरण व राशन दुकानों से कोई राहत नहीं प्राप्त हो पा रही है। किसान परेशान हो रहे हैं। इस संबंध में शासन के द्वारा अभी तक कोई वैकल्पिक व्यवस्था नहीं की गई है। 
उल्लेखनीय है कि चुनावी वर्ष होने के कारण लैम्पस कर्मचारी अपनी मांग मनवाने अडिग रूप से डटे हुए हैं उन्हें उम्मीद है कि चुनावी वर्ष होने के कारण सत्तारूढ़ दल उनके द्वारा उठाई गयी मांगों पर अवश्य ही कार्रवाई करेगा। लैम्पस कर्मचारी संघ के सूत्रों ने बताया कि उनकी दो सूत्रीय मांगे हैं। जिसके लिये यह आंदोलन किया जा रहा है। लैम्पस कर्मचारियों को नियमित करते हुए शासकीय कर्मचारियों के समान स्तर प्रदान करने और उन्हें सातवें वेतनमान का लाभ देने के लिये यह हड़ताल की जा रही है। शासन उनकी मांगों पर तत्काल कार्रवाई कर किसानों को राहत प्रदान करने की कोशिश करे। इधर हड़ताल के कारण खाद, बीज वितरण, ऋण प्रकरण सहित लैम्पस द्वारा संचालित संभाग की 220 राशन दुकानें एवं 28 रसोई गैस प्रदान करने के सभी कार्य स्थगित हो गये हैं और जनता परेशान हो रहे हैं। इस संबंध में जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के सूत्रों ने बताया कि वैकल्पिक व्यवस्था की जा रही है और किसानों तथा ग्रामीणों को राहत पहुंचाने की पूरी कोशिश की जा रही है।