Today's Top News

img

-मस्जिदों और ईदगाह के भी नहीं खुले गेट, पुलिस के पहरे में रही मस्जिदें

-सामाजिक दूरी के बीच मुस्लिमों ने घरों के अंदर अदा की बकरीद की नमाज

हमीरपुर, 01 अगस्त (हि.स.)। कोरोना वारस महामारी को लेकर ईद-उल-जुहा (बकरीद) के त्यौहार पर मस्जिदों में सन्नाटा पसरा रहा। ईदगाह के पेश इमाम भी नमाज पढ़ने ईदगाह नहीं पहुंचे। उन्होंने अपने घर में नमाज अदा की। जनपद में हजारों लोगों ने अपने ही घरों में रहकर न सिर्फ बकरीद की नमाज अदा की बल्कि घरों के अंदर ही ये त्यौहार मना रहे है। खुले में कुर्बानी को रोकने के लिये पुलिस बल लगातार संभावित इलाकों में गश्त कर रहा है। 

बड़ी ईदगाह के पेश इमाम हाफिज अब्दुल रशीद कुरैशी ने घर में ही बकरीद की नमाज अदा की। वहीं मुस्लिमों ने भी अपने घरों के अंदर ही नमाज अदा की। ईदगाह के बाहर फायर बिग्रेड की गाड़ी के साथ बड़ी संख्या में पुलिस बल मुस्तैद किया गया है। सरकार की गाइड लाइन का पालन कराये जाने और सार्वजनिक स्थानों में नमाज अदा करने के प्रतिबंध को लेकर जिलाधिकारी ज्ञानेश्वर त्रिपाठी, पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार, अपर पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव के अलावा एसडीएम और सीओ ने भी निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। 

जिलाधिकारी ने हमीरपुर व सुमेरपुर के अलावा कोरोना संक्रमित इलाकों का दौरा कर पुलिस को लॉकडाउन का कड़ाई से पालन कराने के निर्देश दिये। उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि कंटेनमेंट जोन और सार्वजनिक स्थानों पर प्रतिबंधों को सख्ती से लागू कराया जाये। कोई भी बिना मास्क पहने बाहर घूमता पाये जाये तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाये। 

कोरोना के नाश के लिये मुस्लिम परिवार ने मांगी दुआयें 

हमीरपुर शहर में मुस्लिम भाईयों ने कोरोना जैसी महामारी के नाश के लिये बकरीद की नमाज अदा कर दुआयें मांगी है। यहां के समाजसेवी जलीस खान, अनवर खान व जिला स्काउट मास्टर अकबर अली ने बताया कि बकरीद की त्यौहार की पहले जैसे कोई रंगत नहीं रही लेकिन नमाज अदा कर घरों में पूरे परिवार ने अल्लाह से कोरोना के खात्मा के लिये दुआयें मांगी गयी हैं।

Adv

You Might Also Like