ADV2
adv Ftr

फिर दहला माहुल परिसर, बीपीसीएल रिफाइनरी में धमाके की आवाज

 

मुंबई, 10 अगस्त (हि.स.)। माहुल और आसपास का परिसर गुरुवार की देर रात फिर दहल उठा। भारत पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) रिफाइनरी में फिर धमाके की आवाज सुनी गई। यह दावा शिवसेना विधायक तुकाराम काते ने किया है। काते का आरोप है बीपीसीएल कंपनी ने फिर से वायु प्रवाह शुरू कर दिया है। कंपनी में देर रात धमाके की आवाज सुनी गई, जिससे इलाके के लोग दहशत में हैं। 
बुधवार को दोपहर में करीब पौने दो बजे बीपीसीएल के प्लांट में भीषण आग लग गई थी। पहले रिफाइनरी में विस्फोट हुए| इसके बाद आग ने उग्र रूप धारण कर लिया था। इस अग्निकांड में कंपनी में काम करनेवाले कई कर्मचारी फंस गए थे। घटना में 45 कर्मचारी घायल हुए थे। दमकल विभाग के जवानों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया था। परंतु आग पूरी तरह से बुझी नहीं थी। अंदर ही अंदर आग सुलग रही थी। 
शिवसेना के विधायक तुकाराम काते का दावा है कि आग पर नियंत्रण होने के बाद बीपीसीएल कंपनी ने चुपचाप फिर से गैस का प्रवाह शुरू कर दिया है। रात में धमाकों की आवाज सुनी गई। जब लोग पूछने गए तो वहां तैनात सुरक्षा रक्षकों ने डांट-डपटकर लोगों को भगा दिया। कंपनी ने गुपचुप बॉयलर और गैस प्रवाह शुरू कर दिया है। इससे आसपास में रहनेवाले लोगों को जान का खतरा है। काते के नेतृत्व में पार्टी कार्यकर्ताओं ने रात में कंपनी के गेट पर प्रदर्शन भी किया। 

Todays Headlines