snat

Crime-Delhi-Snatcher-Karol Bag

झपटमारी की सोने की चेन पिघलाकर करोल बाग में बेचते थे,पकड़े

नई दिल्ली, 09 सितंबर (हि.स.)। दिल्ली पुलिस की मॉस्ट वांटेड लिस्ट में रहे बंटी बदमाश को अपना आदर्श मानकर एक दर्जन से ज्यादा वारदात कर चुके हिस्ट्री शीटर को उसके साथी के साथ मंगोलपुरी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान रानी बाग के रहने वाले सुरेंद्र सिंह उर्फ हैप्पी और रमेश दास के रूप में हुई है। आरोपियों के कब्जे से पिघला हुआ सोना 10 ग्राम, बाइक, पिस्टल और दो कारतूस बरामद किये हैं। आरोपियों के पकड़े जाने के बाद 15 वारदातों का खुलासा हुआ है।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि बीते शनिवार के दिन मिलन अपार्टमेंट के पास बाइक सवार बदमाशों ने ऋषभ विज की पत्नी से सोने की चेन लूट ली थी। पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू की थी। एसीपी विरेन्द्र कादयान की देखरेख में एसएचओ मुकेश कुमार के निर्देशन में पुलिस टीम को आरोपियों को पकड़ने का जिम्मा सौंपा गया था। पुलिस टीम वारदात के आसपास लगे 115 सीसीटीवी कैमरों को खंगालकर आरोपियों की पहचान करने की कोशिश कर रही थी। पुलिस कैमरों की फुटेज खंगालते हुए रानी बाग के ऋषि नगर इलाके तक पहुंच गई थी। इस बीच पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल बाइक का नंबर की सत्यता जानने की कोशिश की। बाइक नंबर फर्जी निकला। इस बीच रानी बाग पुलिस की मदद ली गई। जिनकी सहायता से पकड़े गए सुरेंद्र उर्फ हैप्पी के बार में पता चला,जो रानी बाग पुलिस का घोषित बदमाश था। एक पुख्ता सूचना के बाद उसे गिरफ्तार किया गया। आरोपी से पूछताछ की गई। उसने बताया कि उसने छीनी हुई चेन रमेश दास नाम को बेच दी थी, जो इलाके के विभिन्न ज्वैलरी की दुकानों में काम करता है। उसके कहने पर उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उसके पास से पिघला हुआ सोना भी जब्त कर लिया। जिसका वह सिक्का बना दिया करता था। आरोपी ने छठी कक्षा के बाद स्कूल छोड़ दिया और एक बुरी संगत में लिप्त हो गया। वह कुख्यात अपराधी बंटी को अपना आदर्श मानता है। जिसने अकेले अपराध किए ताकि कोई उसकी जानकारी साझा न कर सके। वह वारदात के वक्त सामने वाले को धमकाने के लिए एक पिस्टल रखता था। जिसको वह कहां से और कब लाया,आरोपी से पूछताछ की जा रही है। जबकि आरोपी रमेश 10 साल पहले दिल्ली में काम की तलाश में आया था और एक ज्वैलरी शॉप में हेल्पर की नौकरी करने लगा था। अमीर बनने के लिए उसने सुरेंद्र से मुलाकात की और वारदात में आई सोने की चेन बहुत कम कीमत पर खरीदता और उसे पिघलाकर करोल बाग इलाके में बेच दिया करता था। उससे करोल बाग का सॉर्स जानने की कोशिश की जा रही है।


Comment As:

Comment (0)