Today's Top News

img
वॉशिंगटन, 24 अप्रैल (हि.स.)। व्हाइट हाउस की प्रवक्ता जेस साकी ने शुक्रवार को कहा कि अमेरिका भारत में कोरोना संकट को दूर करने के लिए राजनीतिक और विशेषज्ञों के साथ मिलकर काम कर रहा है। उन्होंने बताया कि अमेरिका उन लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त करता है, जिन्होंने इस दौरान अपने प्रियजनों को खो दिया। उन्होंने बताया कि क्वाड देशों के साथ भी इस संबंध में मिलकर काम किया जा रहा है। साकी ने बताया कि महामारी की शुरुआत से हमने भारत को राहत सामग्री उपलब्ध कराई है। इसमें मेडिकल उपकरण, वेंटीलेटर और स्वास्थ्य अधिकारियों को प्रशिक्षण देना शामिल है। इसके साथ-साथ भारत को भविष्य में आनेवाली महामारियों के लिए तैयार करने के लिए 1.4 मिलियन अमेरिकी डॉलर का सहयोग किया है। इसके अलावा एक अन्य प्रेस कांफ्रेंस में राष्ट्रपति जो बाइडेन के मेडिकल सलाहकार डॉ एंथोनी फौकी ने बताया कि भारत इस समय बहुत भयानक स्थिति का सामना कर रहा है। देश में बड़ी संख्या में मामले सामने आ रहे हैं और स्थिति इतनी खराब है कि नए-नए वेरिएंट रोज उत्पन्न हो रहे हैं। सीडीसी अन्य देशों के साथ मिलकर उन्हें मदद दे रहा है। व्हाइट हाउस में कोविड रिस्पांस कॉर्डीनेटर जेफ साइंट्स का कहना है कि यह एक वैश्विक महामारी है और भारत को देखकर यह पता लगता है कि अगर इसे नियंत्रित नहीं किया गया तो इसके क्या परिणाम होंगे। इसलिए हमने कोवैक्स सुविधा में निवेश किया है जिससे सबकी मदद की जा सके। उल्लेखनीय है कि भारत में बहुत तेजी से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं एक दिन में 3.32 लाख नए मामले दर्ज हुए हैं जबकि कोरोना के कारण 1,86,920 लोगों की मौत हो गई है।
Adv

You Might Also Like