Today's Top News

img
मेरठ, 14 अप्रैल (हि.स.)। नेशनल शूटर प्रशांत की मंगलवार देर रात को एक मार्ग दुर्घटना में मौत हो गई। रोहटा थाना क्षेत्र में उनकी कार हादसे का शिकार हुई। वर्ष 2017 में विदेशी हथियारों और प्रतिबंधित वन्य जीव तस्करी के मामले में डीआरआई के निशाने पर आने के बाद प्रशांत का नाम सुर्खियों में आया था। इस मामले में प्रशांत जेल गया था। फिलहाल वह जमानत पर बाहर चल रहा था। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि मंगलवार की देर रात सफेद रंग की फॉर्च्यूनर गाड़ी लगभग डेढ़ सौ किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से बड़ौत से मेरठ की तरफ जा रही थी। इस दौरान रोहटा थाने के सामने हादसे का शिकार हो गई। जीप के पास खड़े कुछ पुलिसकर्मी कार की चपेट में आने से बाल-बाल बचे। रोहटा रोड पर पूठ गंग नहर पेट्रोल पंप के पास तेज रफ्तार कार 20 फीट गहरी खाई में जा गिरी। घटना के चलते प्रत्यक्षदर्शियों में हड़कंप मच गया। पुलिस कर्मियों ने कार में फंसे बुरी तरह से घायल युवक को बाहर निकालकर टीपी नगर स्थित सिरोही नर्सिंग होम लेकर पहुंचे, जहां उसकी गंभीर स्थिति को देखते हुए डॉक्टरों ने घायल को आनंद हॉस्पिटल के लिए रेफर कर दिया, जहां डॉक्टरों ने युवक को मृत घोषित कर दिया। युवक की क्षतिग्रस्त गाड़ी से मिले कागजात के आधार पर मृतक की पहचान मेरठ के सिविल लाइन क्षेत्र के रहने वाले प्रशांत बिश्नोई के रूप में हुई। इसके बाद पुलिस ने मृतक के परिजनों को घटना की जानकारी दी। बताते चलें कि प्रशांत रिटायर्ड कर्नल देवेंद्र बिश्नोई का बेटा और नेशनल शूटर था। वर्ष 2017 में डीआरआई की टीम ने एक पुख्ता सूचना पर कार्रवाई करते हुए प्रशांत के घर पर रेड की थी। जिसके बाद टीम को प्रशांत के घर से लगभग दो लाख कारतूस, कई विदेशी पिस्टल, प्रतिबंधित वन्यजीवों के अवशेष और भारी मात्रा में प्रतिबंधित वस्तुएं बरामद हुई थीं। जिसके बाद प्रशांत के वन्य जीव और हथियार तस्कर होने का खुलासा हुआ था। इस मामले में एटीएस और एसटीएफ भी जांच कर रही थीं। सरकार ने प्रशांत की गिरफ्तारी की जिम्मेदारी वाइल्ड लाइफ क्राइम कंट्रोल ब्यूरो यानी डब्लूसीसीबी की टीम को दी थी।
Adv

You Might Also Like