Today's Top News

img
रायपुर 17 मई (हि.स.) । भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने कोरोना संक्रमण के साथ ही अब ब्लैक फंगस के मरीजों की लगातार बढ़ती संख्या को चिंताजनक बताया है । उन्होंने कहा कि रेमिडेसिविर जैसा ही अब ब्लैक फंगस इंजेक्शन ग़ायब होना चिंताजनक हैं। इस इंजेक्शन का भी कृत्रिम अभाव पैदा करके अब इसकी भी कालाबाज़ारी की आशंका है। श्रीवास्तव ने प्रदेश सरकार से ईमानदारी और संजीदग़ी के साथ तत्काल इस नई भयावह आपदा के चंगुल में जाने से पहले ही प्रदेश को सुरक्षित करने की मांग की है।
श्रीवास्तव ने रविवार शाम को एक बयान जारी कर कहा कि ब्लैक फंगस से पीड़ित मरीजों के परिजन दर-दर भटक रहे हैं, ऐसे में इस बीमारी को लेकर प्रदेश सरकार सिर्फ़ एडवाइज़री जारी करके अपनी ज़िम्मेदारी पूरी नहीं मान सकती। प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने भी माना है कि प्रदेश में अब ब्लैक फंगस की दवाओं की कमी है और इसका इलाज काफ़ी महंगा भी है। श्रीवास्तव ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की आयुष्मान भारत योजना और भाजपा की डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व वाली पूर्ववर्ती प्रदेश सरकार की मुख्यमंत्री स्वास्थ्य योजना के प्रति राजनीतिक दुराग्रह दिखाकर प्रदेश की मौज़ूदा कांग्रेस सरकार ने प्रदेश के ज़रूरतमंद मरीजों के पास कोई विकल्प ही नहीं दिया है, जिससे प्रदेश के मरीज और उनके परिजन परेशान हो रहे हैं। संजय श्रीवास्तव ने कहा कि प्रदेश सरकार ने जिस तरह कोरोना की रोकथाम में लापरवाही की, वैसे कम से कम ब्लैक फंगस के इंजेक्शन में लापरवाह नहीं रहे। उन्होंने कहा कि इंजेक्शन की सहज उपलब्धता सुनिश्चित करना प्रदेश सरकार का दायित्व है, इस पर प्राथमिकता से ध्यान दिए जायें।

Adv

You Might Also Like