Today's Top News

img


ग्वालियर, 16 मई (हि.स.)।अरब सागर में सक्रिय चक्रवाती तूफान तौकते का असर दिखने लगा है। रविवार की शाम से ही आसमान में घने बादल छा गए हैं। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि सोमवार से ग्वालियर-चम्बल अंचल में बारिश का क्रम शुरू हो सकता है, जो अगले तीन दिन तक जारी रह सकता है।

रविवार को सुबह से ही मौसम शुष्क था, जिससे तेज धूप निकली और हवाएं मंद गति से चलीं। इसके चलते तापमान में दो डिग्री सेल्सियस की वृद्धि दर्ज की गई, लेकिन शाम होते-होते आसमान में घने बादल छा गए। स्थानीय मौसम विज्ञानी सी.के. उपाध्याय मौसम में आए इस बदलावा को अरब सागर में सक्रिय चक्रवाती तूफान तौकते का असर बता रहे हैं। 

उनका कहना है कि चक्रवाती तूफान के अलावा अलग-अलग स्थानों पर बने पांच वेदर सिस्टमों के कारण भी सोमवार से ग्वालियर-चम्बल सहित प्रदेश के अधिकांश जिलों में तेज बौछारें पडऩे की संभावना है। उन्होंने बताया कि 18 मई को चक्रवाती तूफान के गुजरात कोस्ट से टकराने की संभावना है। इसके बाद अंचल में बारिश की गतिविधियों में और तेजी आने की संभावना है।

दो अंक चढ़ा पारा: स्थानीय मौसम विज्ञान केन्द्र के अनुसार दिन में मौसम शुष्क रहने से पिछले दिन की तुलना में सोमवार को अधिकतम तापमान 1.9 डिग्री सेल्सियस बढ़कर 41.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो औसत से 0.6 डिग्री सेल्सियस कम है। न्यूनतम तापमान भी 2.0 डिग्री सेल्सियस बढ़कर 25.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो औसत से 1.1 डिग्री सेल्सियस कम है। आज सुबह हवा में नमी 55 प्रतिशत दर्ज की गई, जो औसत से 11 प्रतिशत अधिक है, जबकि शाम को हवा में नमी 27 प्रतिशत दर्ज की गई। यह भी औसत से नौ प्रतिशत कम है। 
Adv

You Might Also Like