ADV2
adv Ftr

नेत्रहीन छात्रों ने दी ऑनलाइन परीक्षा

 

नागपुर, 04 दिसम्बर (हि.स.)। ऑनलाइन परीक्षा और नेत्रहीन छात्र यह इक्वेशन सुनने में ही अविश्वसनिय लगता है। लेकिन नागपुर में सोमवार को तीन नेत्रहीन छात्रों ने अपनी प्रतिभा के दम पर विज्ञान भारती द्वारा आयोजित ऑनलाइन परीक्षा में हिस्सा लिया।
टेक्नोलॉजी के इस दौर में सबकुछ ऑनलाइन हो चुका है। इसी टेक्नोलॉजी कि सहायता सें अब शारीरिक विकलांग भी अपनी काबिलियत का लोहा मनवाते दिखाई देते है। नागपुर के अंध विद्यालय में पढ़ने वाले तीन छात्रों ने सोमवार को विज्ञान मंथन कि ऑनलाइन परीक्षा देते हुए अपनी योग्यता का परिचय दिया। केंद्र सरकार का विज्ञान प्रचार विभाग और विज्ञान भारती कि साझेदारी में सोमवार तीन दिसम्बर को विज्ञान मंथन ऑनलाइन परीक्षा का आयोजन किया था। देश में पहली बार विकलांगों के लिए यह परीक्षा रखी गई थी। नागपुर के अंध विद्यालय में पढ़ने वाले नवमीं कक्षा के आदित्य पाटील, पूनम ठाकरे और हिमांशु बोकडे इन छात्रों ने विज्ञान मंथन ऑनलाइन परीक्षा में हिस्सा लिया।
सोमवार को दोपहर तीन बजे इस ‘अ‍ॅप बेस डिजिटल’परीक्षा का प्रारंभ हुआ। अंध विद्यालय संस्थान के सह सचिव मकरंद पांढरीपांडे ने इन छात्रों को ‘ब्रेल’ लिपि तथा ऑडिओ के जरिये परीक्षा के पाठ्यक्रम की जानकारी मुहैया कराई गई थी। इस परीक्षा के दौरान विज्ञान मंडल के राज्य समन्वयक डॉ. उमेश पालेकुंडवार उपस्थित थे। परीक्षा के लिए नेत्रहीन छात्रों को 30 मिनीट का अतिरिक्त समय दिया गया था।
मकरंद ने बताया कि, अंध विद्यालय अपने छात्रों के सक्षम बनाने के लिए समय-समय पर डिजिटल टेक्नोलॉजी से जुड़ी जानकारी एवं सुविधाएं उपलब्ध कराता है। जिसके दम पर छात्रों में आत्मविश्वास जगा है। इससे पहले इसी विद्यालय के सात छात्रों ने राज्य सरकार द्वारा आयोजित कम्प्यूटर प्रशिक्षण से जुड़ी एमएससीआयटी यह ऑनलाइन परीक्षा दी थी। उन सात छात्रों में से एक छात्र बँक ऑफ इंडिया में सेवारत है। 

Todays Headlines