Adv
adv Ftr

क्रिस्टल टॉवर अग्रिकांड में 10 वर्ष की बच्ची ने बचाई दर्जनों की जान

 

अधिवास प्रमाणपत्र न होने से क्रिस्टल टावर का बिजली व पानी कनेक्शन कटा 
मुंबई, 22 अगस्त (हि.स.)। परेल इलाके में स्थित क्रिस्टल टावर इमारत में लगी आग के दरम्यान धुएं से लोगों का दम घुट रहा था और लोग आग की लपटों से खुद को बचाने के लिए हाथ पैर मार रहे थे। उस समय स्कूल में 'फायर फाइटिंग' का प्रशिक्षण ले चुकी 10 वर्ष की बच्ची जेन खुद की और अपने परिवार सहित दर्जनों लोगों की जान बचाने में सफल रही। बच्ची के मार्गदर्शन में यह सभी लोग सकुशल टॉवर से नीचे उतरने में सफल हो सके। क्रिस्टल टॉवर इमारत को स्थानीय मुंबई महानगर पालिका की ओर से अधिवास प्रमाणपत्र नहीं दिया गया है। इसलिए मनपा की ओर से इस इमारत का पानी व बिजली कनेक्शन काट दिया गया है।
परेल इलाके में हिंदमाता इलाके में बुधवार को सुबह अचानक आग लग जाने से 12 व 13वीं मंजिल पर आग पूरी तरह फैल गई थी। यहां धुएं की वजह से टॉवर में रहने वाले लोग परेशान हो गए। इसी दौरान जेन ने अपने घर में कपड़ों को फाड़ा और उसे गीला करके अपने परिवार वालों को दिया। यह गीला कपड़ा परिवार के सभी लोगों ने अपनी-अपनी नाक के पास लगाकर रखा। इसके बाद जेन ने खुद सहित अपने परिवारों के बाल व पहने गए कपड़ों को गीला कर दिया और आग की लपटों से बचाव किया। 
इस घटना में एक महिला शुभदा शेलके व बबलू शेख सहित 4 लोगों की मौत हो चुकी है। अभी तक 2 मृतकों की पहचान नहीं हो सकी है। केईएम अस्पताल में शेख मासुक, वकार शेख, कार्तिक सुवर्णा, जयंत सावंत , नवीन संपत, अजहर शेख, येवटे डिसोजा, असफाक शेख, राजीव नरवाड़े, संदीप मांजरे, ज्योत्स्ना बेरा, अक्षता सुवर्णा, वीना संपत, निधि संपत व चंद्रिका सुवर्णा का इलाज जारी है। इनमें राजीव नरवड़े व संदीप मांजरे अग्रिशमन दल के जवान हैं। 

Todays Headlines