img
नई दिल्ली, 19 फरवरी (हि.स.)। केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय द्वारा देशभर के दस्तकारों, कारीगरों के स्वदेशी उत्पादों के 26वें “हुनर हाट” का आयोजन 21 फरवरी से जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में होने जा रहा है। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह रविवार को 9:30 बजे इसका उद्घाटन करेंगे। इस अवसर पर केंद्रीय पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) मनसुख मंडाविया मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहेंगे एवं सांसद मीनाक्षी लेखी विशिष्ट अतिथि के तौर पर शिरकत करेंगी। केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने शुक्रवार को जारी बयान में बताया कि स्वदेशी दस्तकारों, शिल्पकारों के 26वें “हुनर हाट” का आयोजन “वोकल फॉर लोकल” थीम के साथ 20 फरवरी से 01 मार्च 2021 तक किया जा रहा है। इसका उद्धाटन 21 फरवरी को रक्षामंत्री राजनाथ सिंह करेंगे। उन्होंने बताया कि जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में आयोजित इस “हुनर हाट” में आंध्र प्रदेश, असम, बिहार, चंडीगढ़, छत्तीसगढ़, दिल्ली, गोवा, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, झारखण्ड, कर्नाटक, केरल, लद्दाख, मध्य प्रदेश, मणिपुर, मेघालय, नागालैंड, ओडिशा, पुडुचेरी, पंजाब, राजस्थान, सिक्किम, तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल सहित देश के 31 से अधिक राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों से 600 से अधिक दस्तकार, शिल्पकार, कारीगर शानदार स्वदेशी उत्पादों के साथ शामिल हो रहे हैं। नकवी ने कहा कि जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में आयोजित हो रहे "हुनर हाट" में एक ही छत के नीचे देश के कोने-कोने के स्वदेशी हस्तनिर्मित दुर्लभ उत्पाद देखने-खरीदने को मिलेंगे। “हुनर हाट” के "बावर्चीखाने" में देश के सभी प्रांतों-क्षेत्रों के पारम्परिक लजीज़ पकवानों का यहां आने वाले लोग लुत्फ़ उठाएंगे, साथ ही देश के प्रसिद्द कलाकारों के विभिन्न सांस्कृतिक, गीत-संगीत के शानदार कार्यक्रमों का आनंद भी लेंगे। “हुनर हाट” में आने वाले लोग एक जगह पर भारत की “अनेकता में एकता” की ताकत का एहसास कर पाएंगे। केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्यमंत्री ने कहा कि अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय द्वारा देशभर के दस्तकारों, शिल्पकारों के स्वदेशी उत्पादनों को लोगों तक पहुंचाने एवं प्रोत्साहित करने का “परफेक्ट प्लेटफार्म” “हुनर हाट” के जरिये अब तक 5 लाख से ज्यादा दस्तकारों, शिल्पकारों, कलाकारों को रोजगार और रोजगार के मौकों से जोड़ा गया है। आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के साथ 75 “हुनर हाट” के जरिये 7 लाख 50 हजार दस्तकारों, शिल्पकारों को रोजगार-रोजगार के मौकों से जोड़ा जायेगा। अल्पसंख्यक कार्यमंत्री ने कहा कि “हुनर हाट” ई प्लेटफार्म http://hunarhaat.org के साथ ही GeM पोर्टल पर भी देश-विदेश के लोगों के लिए उपलब्ध है जहां लोग सीधे दस्तकारों, शिल्पकारों, कारीगरों के बेहतरीन स्वदेशी सामानों को देख-खरीद रहे हैं। “हुनर हाट” को ई-प्लेटफार्म और GeM पोर्टल पर ले जाने के बहुत ही जबरदस्त परिणाम आये हैं, दस्तकारों, शिल्पकारों को बड़े पैमाने पर ऑनलाइन ऑर्डर मिल रहे हैं।
Adv

You Might Also Like