Adv
adv Ftr

कुख्यात कैदी विकास को पुलिस गिरफ्त से छुडक़र ले गए बदमाश

 

फरीदाबाद, 8 अक्टूबर (हि.स.)। फरीदाबाद के सिविल अस्पताल बादशाह खान में सोमवार सुबह मेडिकल कराने हेतु लाए गए एक कुख्यात कैदी को उसके बाइक सवार दो दोस्त हवा फयरिंग करते हुए पुलिस से छुड़ाकर अपने साथ लेकर फरार हो गए। इस दौरान दोनों बदमाशों ने हवा में फायरिंग की, जिससे एक गोली वहीं समीप रेहड़ी पर चाय पी रहे एक व्यक्ति को जा लगी, जिससे वह गंभीर रुप से जख्मी हो गया। फिलहाल घायल को उपचार के लिए बीके अस्पताल में दाखिल करवाया गया है। परंतु इस घटना ने एक बार फिर से फरीदाबाद पुलिस सुरक्षा की कलई खोलकर रख दी है। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और आगे की जांच में जुट गई। बताया जा रहा है कि फरार कैदी पर हत्या के तकरीबन 17 मुकदमें दर्ज हैं। 
मिली जानकारी के अनुसार जिला कारागार नीमका जेल में बंद झज्जर के रेवाड़ी खेड़ा गांव निवासी विकास दलाल को नीमका जेल की पुलिस गार्द सोमवार सुबह 10 बजे दांत के दर्द का इलाज कराने हेतु बी. के. अस्पताल में लाई थी, जैसे ही पुलिस कर्मी डॉक्टर से चेक करवा कर कैदी विकास को बाहर की तरफ लाए तो पहले से ही घात लगाए बैठे बाइक सवार दो बदमाशों ने हवा फायरिंग शुरू कर दी, जिसे उपस्थित पुलिस कर्मी घबरा गए और मौके का फायदा उठाते दोनों बदमाश कैदी विकास को छुड़ाकर अपनी बाईक पर बिठाकर ले गए। इस दौरान रेहडी पर चाय पी रहे इकबाल नामक एक शख्स को गोली गई, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। इस घटना के बाद मौके पर तुरंत सबंधित थाने व चौकी के इंचार्ज दयानद पहुंच गए और उसकी जांच शुरू कर दी। जांच के दौरान पता चला की कुख्यात अपराधी विकास मंजीत महाल गैंग का सदस्य हैं और इस पर हत्या के कुल 17 मुकदमें दर्ज हैं। विकास दलाल नामक यह बंदी मई माह में दिल्ली की तिहाड़ जेल से ट्रांसफर होकर फरीदाबाद की नीमका जेल में आया था। अभी यह अंडर ट्रायल था। पुलिस का कहना है कि बदमाश का एक साथी बाइक लेकर दशहरा ग्राउंड के गेट पर खड़ा हुआ था। गोली चलाने वाला बदमाश पैदल था। फिलहाल पुलिस इस मामले में जांच की बात कहकर अपना पल्ला झाड़ रही है परंतु शहर में दिनदिहाड़े कुख्यात बदमाश को हवाई फायर करके पुलिस गिरफ्त से छुड़ाने का जो साहस बदमाशों ने दिखाया, उसने फरीदाबाद पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान लगा दिए है। 
वर्जन: कैदी विकास के फरार होने के बाद आसपास के थानों को सूचना दे दी गयी है। कैदी की तलाश जारी है। जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जायेगा।
दयानन्द, (सब इंस्पेक्टर), चौकी इंचार्ज, बादशाह खान अस्पताल।

Todays Headlines