Today's Top News

img

नई दिल्‍ली,  22 मई (हि.स.)। कोविड-19 की महामारी से पस्‍त अर्थव्‍यवस्‍था में तेजी लाने के लिए रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने शुक्रवार को कई बड़े ऐलान किए। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि लोन मोरैटोरियम (कर्ज चुकाने के लिए मोहलत) की अवधि को 3 महीने के लिए और बढ़ाया जा रहा है।

आरबीआई गवर्नर ने कहा कि कोरोना-19 के संक्रमण से वैश्विक अर्थव्यवस्था पर बुरा असर पड़ा है। इससे आम आदमी की आय भी प्रभावित हुई है। इसको देखते हुए ईएमआई के भुगतान में छूट की अवधि को बढ़ाकर अगस्त तक किया जा रहा है। दास के ऐलान के मुताबिक अब लोन लेने वालों को 31 अगस्त तक ईएमआई का भुगतान नहीं करना होगा। हालांकि, ये सुविधा स्वैच्छिक है। यदि कोई ईएमआई का भुगतान करना चाहे तो वो कर सकता है। 

इसके साथ ही आरबीआई ने सभी कमर्शियल, रिजनल, रूरल, एनबीएफसी और स्मॉल फाइनेंस बैंकों को सभी तरह के टर्म लोन की ईएमआई वसूलने से रोक दिया है। ईएमआई के भुगतान को टालने से आम आदमी के क्रेडिट स्कोर पर कोई असर नहीं पड़ेगा। वहीं, आरबीआई ने कहा है कि मोराटोरियम अवधि को क्रेडिट स्कोर की गणना में शामिल नहीं किया जाएगा। इसके अलावा मोरैटोरियम का लाभ लेकर ईएमआई नहीं देने वाले खातों को डिफॉल्ट भी नहीं घोषित किया जाएगा।

गौरतलब है कि 6 महीने तक ईएमआई में भुगतान की छूट मिलने का यह मतलब नहीं है कि आपको इस अवधि का लोन नहीं चुकाना होगा। बल्कि, आपको पूरा लोन चुकाना होगा। आपको केवल ईएमआई के भुगतान की छूट मिली है। मोरैटोरियम अवधि के खत्म होने के बाद आपकी ईएमआई दोबारा से शुरू हो जाएगी। आरबीआई ने ये कदम ऐसे लोगों के लिए उठाया है, जिनके पास लॉकडाउन की वजह से वाकई में नकदी की कमी हो गई है। इससे उन्हें कर्ज के भुगतान के लिए कुछ समय मिल जाएगा। 

उल्‍लेखनीय है कि कोरोना-19 संक्रमण सामने आने के बाद आरबीआई गवर्नर ने 27 मार्च को बैंकों और वित्तीय संस्थाओं को कोरोना की वजह से टर्म लोन की किस्त वसूली 3 महीने तक टालने की अनुमति दी थी। दास ने कहा था कि वे टर्न लोन के मामले में ग्राहकों की ईएमआई की वसूली 3 महीने के लिए टाल दें। इसके साथ ही आरबीआई ने इसे एनपीए खाते में नहीं रखने की भी छूट दी थी। रिजर्व बैंक ने 1 मार्च से लोन मोराटोरियम की लागू करने को कहा था। बता दें कि कई बैंकों ने की थी मोरैटोरियम अवधि बढ़ाने की सिफारिश, जिसमें रिजर्व बैंक भी शामिल है। 

Adv

You Might Also Like