Adv
adv Ftr

निजी स्कूलों में खाली 200 सीटें को भरने निर्धन वर्ग के बच्चों को एक ओर अवसर

 

जगदलपुर, 04 जुलाई (हि.स.)। जिले में चल रही निजी स्कूलों को बेहतर शिक्षा निर्धन वर्ग के बच्चों को प्रदान करने के लिये पिछले माह हुए प्रवेश के बाद बची हुई 200 सीटों को भरने के लिये इस वर्ग के बच्चों को और सात दिन का अवसर प्रवेश के लिये दिया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार शिक्षा के अधिकार के तहत कमजोर तबके के बच्चों को महंगे निजी स्कूलों में निशुल्क दाखिला देने की प्रक्रिया 30 जून से बंद हो गई थी। इधर बस्तर जिले के ग्रामीण इलाकों के निजी स्कूलों में इस वर्ग की 200 सीटें खाली रह गई हैं।
उल्लेखनीय है कि निर्धन वर्ग के पालक महंगे स्कूलों में अपने बच्चों को प्रवेश दिलाने के लिये 5 से 12 जुलाई तक फिर ऑनलाइन आवेदन कर सकतेे हैं। इसके बाद जिन शालाओं में सीटें रिक्त हैं वहां नोडल अधिकारी द्वारा उन्हें आबंटित करेगें। यह सारी प्रक्रिया अगले 15 दिन में पूरी की जाएगी।
इस पूरी प्रक्रिया में यह विशेष तथ्य है कि आरटीई के तहत अब बची हुई सीटों के बंटवारे को लेकर प्रक्रिया एक दम साफ है। ऑनलाइन आवेदन पालकों द्वारा किए जाने हैं। जिन शालाओं में सीटें खाली हैं वहीं पर बच्चों का दाखिला होगा। स्कूलों को लेकर बच्चों के पालकों की पसंद कोई मायने नहीं रखेगी। जिला शिक्षा विभाग के सूत्रों ने बताया कि प्रवेश की प्रक्रिया उच्च अधिकारियों द्वारा निर्धारित की गई है। उसी के अनुसार प्रवेश दिया जाएगा।