Adv
adv Ftr

रत्नागिरी रेलवे स्टेशन पर यात्रियों ने 5 घंटे तक रोकी ट्रेन

 

गणेश पर्व के लिए कोंकण गए यात्रियों को ट्रेन में वापसी के लिए जगह न मिलने से गुस्सा
मुंबई 18 सितंबर(हि स)। गणेश पर्व के लिए कोंकण गए यात्रियों को ट्रेन में वापसी के लिए जगह न मिलने से भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। मंगलवार को सुबह इन यात्रियों का गुस्सा रेलवे प्रशासन पर फूट पड़ा और रत्नागिरी स्टेशन पर उत्तेजित यात्रियों ने 5 घंटे तक रेल रोको आंदोलन किया। रेलवे अधिकारियों की ओर से यहां के लिए आरक्षित बोगी को रिक्त करवाए जाने के बाद ही उत्तेजित यात्रियों ने अपना आंदोलन स्थगित किया और सावंतवाड़ी- दादार एक्सप्रेस पूरे 5 घंटे बाद रत्नागिरी स्टेशन से रवाना हो सकी है। हालांकि अभी भी मुंबई लौटने वाले गणेश भक्तों की भारी भीड़ इन स्टेशनों पर लगी हुई है। 
मिली जानकारी के अनुसार सोमवार को 5 वें दिन के गणपति का विसर्जन कर गणेश भक्त मंगलवार को सुबह सावंतवाड़ी -रत्नागिरी एक्सप्रेस से लौटने वाले थे। लेकिन रत्नागिरी से खुलने वाली बोगी में पहले से ही यात्री भरे हुए थे। इससे यहां के यात्रियों में गुस्सा बढ़ गया और यात्रियों ने रेल रोको आंदोलन कर दिया। यात्रियों की मांग थी कि रत्नागिरी बोगी को तत्काल खाली करवाया जाए और उस बोगी में सिर्फ रत्नागिरी के यात्रियों को बिठाया जाए। इसके बाद रेलवे अधिकारियों ने पुलिस के सहयोग से गाड़ी के रत्नागिरी बोगी में बैठे पहले के यात्रियों को जबरन बाहर निकाला और इन यात्रियों को केरल संपर्क क्रांति एक्सप्रेस में बिठाया। इसके बाद तकरीबन साढ़े 10 बजे आंदोलककारियों ने अपना आंदोलन स्थगित किया और गाड़ी मुंबई के लिए रवाना हो सकी है। इस दौरान कोंकण विभाग की दर्जनों ट्रेनें अलग-अलग जगहों पर रुकी रहीं, जिससे यात्रियों को भारी परेशानी सहन करनी पड़ी। 

Todays Headlines