Today's Top News

img
गोपेश्वर, 14 जनवरी (हि.स.)। रग रग में गंगा (एक निर्मल अविरल यात्रा) की टीम गुरुवार को नमामि गंगे प्रोजेक्ट के तहत चमोली जिले के 11 गांवों में से एक कलस्टर गोलिम गांव में पहुंची। अभिनेता राजीव खंडेलवाल ने यहां की महिलाओं के मेहनत की खूब प्रशंसा की और यहां के रहन-सहन, लोगों के बारे में तथा आर्गेनिक उत्पादों के बारे में जिज्ञासा व्यक्त करते कहा कि यहां के उत्पादों की मुम्बई में काफी डिमाण्ड हैं। इससे यहां के लोगों को आमदनी मिल रही है और केमिकल फर्टिलाइजर के इस्तेमाल न करने से गंगा भी स्वच्छ हो रही है। उन्होंने गोलिम गांव वालों के कार्यों की सराहना करते हुए बधाई दी और उनके अनुभव, दिनचर्या भी जानी। जिलाधिकारी चमोली स्वाति एस भदौरिया ने बताया कि अलकनन्दा ही हमारी लाइफ लाइन है। गोलिम गांव आर्गेनिक फार्मिंग में नमामि गंगे में चिन्हित है। यहां के लोगों को बायो फर्टिलाइजर, बायो पेस्टीसाइड बनाने की ट्रेनिग दी गई है। उन्होंने बताया कि जो अर्थ गंगा का कॉन्सेप्ट है वो यहां पूरी तरह फलीभूत हो रहा है। मार्किट लिंकेज भी की जा रही है। हमारे कई उत्पाद ई कार्मस साइटों पर उपलब्ध हैं। जिलाधिकारी ने अभिनेता राजीव खंडेलवाल और उनकी टीम को पहाड़ी उत्पाद भी भेंट किए। वहीं गांव की महिलाओं के साथ बैठकर उनके कृषि से संबंधित सुझाव भी लिए। उन्होंने कहा कि कृषि यंत्रों की आवश्यकता को पूरा किया जाएगा। उन्होंने ग्राम प्रधान को गांव को सड़क से जोड़ने वाले मार्ग को दुरस्त करने को कहा।
Adv

You Might Also Like