Adv
adv Ftr

आक्रासू का 24 घंटे के असम बंद का मिलाजुला असर

 

गुवाहाटी, 20 जुलाई (हि.स.)। अलग कामतापुर राज्य के गठन और कोच राजवंशी को जनजाति का दर्जा दिए जाने को मांग को लेकर शुक्रवार को ऑल कोच राजवंशी छात्र संगठन (आक्रासू) व इसके सहयोगी संगठनों द्वारा 24 घंटे के असम बंद का आह्वान किया गया है। आक्रासू, कोच राजवंशी महिला समिति और चिला राय सेना द्वारा शुक्रवार को आहूत 24 घंटे असम बन्द का प्रभाव सुबह से ही निचले असम के कई जिलों में देखने को मिला है। बंद समर्थकों द्वारा जगह-जगह टायर जलाकर बंद को सफल बनाने की कोशिश की गई। साथ ही कुछ जगहों पर वाहनों को निशाना बनाकर पत्थरबाजी भी की गई। 
बंद को देखते हुए निचले असम के सभी जिलों में सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। हालाकि बंद का असर असम की गुवाहाटी में देखने को नहीं मिला है। बंद के दौरान कहीं से किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना की खबर नहीं मिली है। बंगाईगांव, कोकझार, ग्वालपाड़ा, दरंग, धुबड़ी आदि जिलों में बंद का काफी प्रभाव देखा गया है। बंद प्रभावित जिलों में स्कूल, कॉलेज, निजी प्रतिष्ठान बंद नजर आ रहे हैं।