ADV2
adv Ftr

वाजपेयी के अंतिम दर्शन के लिए भाजपा मुख्यालय के बाहर जुटने लगी जनता

 

No

नई दिल्ली, 17 अगस्त (हि.स.)। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अंतिम यात्रा शुक्रवार को दोपहर एक बजे भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) मुख्यालय से शुरू होगी और चार बजे उनकी अंत्येष्टि यमुना तट पर की जाएगी। दिवंगत नेता को अंतिम विदाई देने और आम जनता के दर्शन हेतु उनका पार्थिव शरीर साढ़े नौ बजे तक भाजपा मुख्यालय लाया जाएगा।
6ए कृष्ण मेनन मार्ग स्थितपूर्व प्रधानमंत्री के आवास से उनका पार्थिव शरीर जिन रास्तों से होकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय मार्ग स्थित भाजपा कार्यालय पहुंचेगा, उन रास्तों पर तोरण द्वार बनाये गए हैं। रास्तों के किनारे फूलों की लड़ियां लगाई जा रहीं हैं। 
आईटीओ से भाजपा कार्यालय जाने वाले रास्ते पर भी कई तोरण द्वार बनाये गए हैं। रास्ते के किनारे दोनों तरफ वाजपेयी की तस्वीर वाली बड़ी-बड़ी होर्डिंग्स लगाई गई हैं। रास्ते में बिजली के खम्भों पर लाउडस्पीकर लगे हैं और रामधुन और गीता के श्लोक बज रहे हैं।
पूर्व प्रधानमंत्री के अंतिम दर्शन करने के लिए आने वाली आम जनता और पार्टी कार्यकर्ताओं की भीड़ को ध्यान में रखते हुए सुरक्षा के भी पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। आईटीओ और मिंटो रोड से भाजपा मुख्यालय जाने वाले मार्ग के किनारे बैरिकेडिंग की गई है और दिल्ली पुलिस के जवानों के साथ अर्धसैनिक बल को तैनात की गई है। सुरक्षा के मद्देनजर रास्तों में कई जगह मेटल डिटेक्टर भी लगाए गए हैं।
अटल जी के पार्थिव शरीर के पहुंचने से पहले भाजपा मुख्यालय के द्वार को सफेद फूलों से सजाया गया है। भारत रत्न वाजपेयी के अंतिम दर्शन के लिए भाजपा मुख्यालय पर लोगों की कतार लग गयी है। लोग 'अटल बिहारी अमर रहे' के नारे लगा रहे हैं। पार्टी के स्थानीय नेता और कार्यकर्ताओं के भी जुटने का सिलसिला शुरू हो गया है।

Todays Headlines