Logo
Header
img

बसीरहाट में तृणमूल कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या

कोलकाता, 15 जून (हि.स.)। पश्चिम बंगाल में चुनावी हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है। ताजा घटना बशीरहाट की है। यहां सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता को मौत के घाट उतारा गया है। शुक्रवार रात बदमाशों ने बशीरहाट में एक दुकान में घुसकर तृणमूल कार्यकर्ता अल्ताफ मल्लिक को गोली मार दी। यह भी आरोप है कि गोलीबारी कर भागते समय बदमाश बमों से भरा बैग भी छोड़ गए। उस घटना का सीसीटीवी फुटेज सामने आया है। वीडियो में साफ दिख रहा है कि एक शख्स दुकान के बाहर मोबाइल फोन लेकर घूम रहा है। अचानक एक दूसरा व्यक्ति दुकान से बाहर आया। वह दुकान में घुसा और गोली मारकर भाग गया। हालांकि, वीडियो में बम से भरे बैग को स्टोर के बाहर छोड़े जाने का दृश्य कैद नहीं हुआ। सूत्रों के मुताबिक, सीसीटीवी वीडियो में जिस शख्स ने गोली मारी है, उसका नाम अयूब गाजी है। स्थानीय सूत्रों के मुताबिक, अयूब गोलीबारी और हत्या के मामले में पांच साल जेल की सजा काट चुका है। सीसीटीवी फुटेज देखने के बाद बशीरहाट थाने की पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। अयूब की तलाश के लिए विभिन्न इलाकों में छापेमारी की जा रही है। अभी यह पता नहीं चल पाया है कि अल्ताफ पर हमले के पीछे और कौन है। हमले का कारण भी स्पष्ट नहीं है। हालात न बिगड़े इसलिए इलाके में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। तृणमूल कार्यकर्ताओं पर गोलीबारी की घटना से इलाके में तनाव फैल गया है। शुक्रवार रात पार्टी कार्यकर्ताओं और समर्थकों ने बशीरहाट के पीफा इलाके में नजत रोड पर सड़क पर टायर जलाकर विरोध प्रदर्शन किया। शंकरपुर इलाके में एक दुकान में आग लगा दी गयी। स्थानीय लोगों का दावा है कि उस दुकान में अयूब का आना-जाना था। वारदात के बाद पुलिस घटना की जांच में जुट गई है।
Top